गडकरी के मंत्रालय ने कोरोना काल में तोड़ा रिकॉर्ड

लक्ष्य से दोगुनी बनाई सड़कें, हाईवे निर्माण कार्य अवार्ड करने में तीन साल का रिकॉर्ड तोड़ा

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के मंत्रालय ने कोरोना काल में रिकॉर्ड तोड़ दिया है। 

कोरोना काल में जब सब कुछ ठप रहा, तब सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय युद्धस्तर पर सड़कों के निर्माण में जुटा रहा।

अप्रैल से अगस्त के बीच मंत्रालय ने सड़कों के निर्माण का नया रिकॉर्ड बनाया है।

नितिन गडकरी के मंत्रालय ने कोरोना काल में लक्ष्य से दोगुनी सड़कें बनाई हैं।

वहीं हाईवे निर्माण कार्य अवार्ड करने के मामले में भी मंत्रालय ने तीन साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया।

मंत्रालय ने इस साल अप्रैल से अगस्त के दौरान कुल 2771 किलोमीटर राजमार्ग बनाने का लक्ष्य रखा था।

कोरोना काल की विपरीत परिस्थितियों के बावजूद लक्ष्य से चार सौ किलोमीटर ज्यादा 3181 किलोमीटर हाईवे का निर्माण हुआ।

इसमें पीडब्ल्यूडी ने 2104 किमी, एनएचएआई ने 879 किमी और एनएचआईडीसीएल ने 198 किमी राजमार्ग का निर्माण किया।

दोगुनी सड़कें बनाई

खास बात है कि अगस्त 2019 तक 1367 किलोमीटर नेशनल हाईवे निर्माण अवार्ड हुआ था।

वहीं इस बार अगस्त 2020 तक दोगुने से ज्यादा 3300 किलोमीटर लंबाई के राष्ट्रीय राजमार्ग अवार्ड हुआ।

मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि कोरोना महामारी के बावजूद अप्रैल से अगस्त के बीच कुल 31 हजार करोड़ की धनराशि से 744 किलोमीटर हाईवे निर्माण का काम सौंपा गया।

यह पिछले तीन सालों में सर्वाधिक है।

बता दें, केंद्रीय मंत्री गडकरी ने दिल्ली-मुंबई कॉरिडोर के लिए एक लाख करोड़ लागत के प्रोजेक्ट की स्वीकृति दी है।

इस प्रोजेक्ट तैयार होने के बाद दिल्ली से मुंबई 12 घंटे में पहुंचना संभव होगा. साल 2023 से पहले इसे बनाने करने का लक्ष्य है।

यह दुनिया का सर्वाधिक लंबा एक्सप्रेस हाईवे होगा।

Related Articles