मांझी के आने से NDA में कलह

चिराग को दी नसीहत- नीतीश के खिलाफ बगावत नहीं होगी बर्दाश्‍त

हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा (हम) के अध्‍यक्ष जीतनराम मांझी के एनडीए में आने के साथ जैसी कि आशंका थी, लोजपा सुप्रीमो चिराग पासवान के साथ उनकी ठनने लगी है।

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार चिराग के स्‍टैंड पर हमलावर मांझी ने स्‍पष्‍ट किया है कि वे नीतीश के खिलाफ उनकी बगावत बर्दाश्‍त नहीं करेंगे।

खुद पर लगाए गए फायदे की राजनीति के आरोप को खारिज करते हुए कहा कि एनडीए तो उन्‍हें राज्‍यपाल बना रहा था, लेकिन उन्‍होंने ठुकरा दिया था।

उन्‍होंने चिराग को चेताया कि अगर वे सवाल उठाएंगे तो जवाब भी मिलेगा।

चिराग पासवान सवाल उठाएंगे तो मिलेगा जवाब

एनडीए में जीतनराम मांझी के शामिल होने के साथ गठबंधन में कलह भी सामने आने लगा है।

लोजपा अध्‍यक्ष चिराग पर हमला बोलते हुए मांझी ने कहा कि अगर चिराग सवाल उठाएंगे तो उनकी पार्टी जवाब जरूर देगी।

उन्‍होंने कहा कि वे एनडीए में फायदे के लिए नहीं, बल्कि बिना शर्त शामिल हुए हैं।

अगर फायदे की राजनीति करनी होती तो राज्‍यपाल बन गए होते। एनडीए ने उन्‍हें पहले इसका ऑफर किया था।

सुधरें नहीं तो लोजपा के खिलाफ उतारेंगे उम्‍मीदवार

मांझी ने कहा कि चिराग पासवान कहते हैं कि वे उन सभी सीटों पर लड़ेंगे, जहां जेडीयू के उम्‍मीदवार होंगे।

अगर वे ऐसा करेंगे तो ‘‍हम’ भी लोजपा के खिलाफ उम्‍मीदवार उतारेगा।

अगर चिराग एनडीए में हैं तो ठीक से रहें। ऐसी बातें ठीक नहीं हैं।

नीतीश कुमार के खिलाफ नहीं जाने की दी सलाह

मांझी ने पहले ही स्‍पष्‍ट किया है कि वे एनडीए में इसलिए हैं, क्‍योंकि नीतीश कुमार वहां हैं।

उनका गठबंधन नीतीश कुमार के साथ है।

गुरुवार को उन्‍होंने चिराग द्वारा नीतीश पर हमले को लेकर कहा कि इसे वे बर्दाश्‍त नहीं करेंगे।

अगर चिराग मुख्‍यमंत्री पर हमला करते हैं तो वे जवाब देंगे।

उन्‍होंने चिराग को सलाह दी कि वे नीतीश कुमार के खिलाफ नहीं जाएं।

पूछा: दलितों के लिए रामविलास ने क्‍या किया?

मांझी ने बिहार में दलित राजनीति को लेकर भी लोजपा पर हमला किया।

कहा कि लोजपा संस्‍थापक रामविलास पासवान ने अपनी लंबी राजनीतिक यात्रा के दौरान दलितों के लिए कुछ भी नहीं किया।

अगर उन्‍होंने कुछ किया है तो बताएं।

नीतीश पर हमलावर चिराग तो मांझी साथ

मांझी के एनडीए में आने के बाद कहा जा रहा था कि एनडीए में रहते हुए जिस तरह लोजपा की दोस्ती भाजपा से है, ठीक उसी तरह मांझी जेडीयू के साथ रहेंगे।

अब ऐसा दिख भी रहा है। एनडीए में चिराग पासवान नीतीश कुमार के काम की आलोचना करते रहे हैं।

अब एनडीए में मांझी चिराग की बातों को काटने के लिए नीतीश कुमार के साथ खड़े दिख रहे हैं।

Related Articles