दिल्ली: जानिए किन मुद्दों और किस मॉडल पर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ेगी AAP

वर्ष 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अब डेढ़ साल से भी कम का समय बचा है। यही वजह है कि सत्तासीन भारतीय जनता पार्टी, समाजवादी पार्टी के साथ बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस ने भी सक्रियता बढ़ा दी है। इस बीच मंगलवार को एक अहम फैसले में आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री ने अहम घोषणा की है, जिसमें उन्होंने कहा है कि AAP वर्ष 2022 में होने वाली उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में हाथ आजमाएगी। यानी 403 विधानसभा सीटों वाले यूपी में AAP भी एंट्री करने जा रही है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को डिजिटल पत्रकार वार्ता के दौरान यह भी बता दिया है कि आम आदमी पार्टी किन मुद्दों और किस मॉडल पर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ेगी। आइए, जानते हैं कि क्या है ‘दिल्ली मॉडल’ , जिसको मुख्य मुद्दा बनाकर यूपी में ताल ठोकेंगे अरविंद केजरीवाल।

मुफ्त बिजली का तोहफा

इसमें कोई शक नहीं कि दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में जीत की बड़ी वजह मुफ्त बिजली और पानी की स्कीम भी है। आम आदमी पार्टी सरकार ने दिल्ली में 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली की योजना को लागू किया है। सरकार की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि घरेलू बिजली के उपभोक्ताओं के लिए 400 यूनिट तक के उपभोग पर मिलने वाली सब्सिडी भी मिलती रहेगी। यह स्कीम जारी है। यूपी विधानसभा चुनाव में भी अरविंद केजरीवाल इस योजना को आगे करके चुनाव मैदान में उतरेंगे, क्योंकि यह स्कीम जीत में ट्रंप कार्ड साबित हो सकती है।

मुफ्त पानी की स्कीम

दिल्ली सरकार की मुफ्त पानी योजना बेहद लोकप्रिय है। इस स्कीम के मुताबिक, दिल्ली में रहने वाले प्रत्येक घर को 20,00 लीटर पानी मुफ्त में मिलने का प्रावधान है। दिल्ली में जिस घर में भी पूरे महीने में 20 हजार लीटर या उससे कम पानी इस्तेमाल किया जाता है, उस घर का बिल शून्य आता है। अगर किसी ने 20,000 से एक लीटर भी अधिक पानी इस्तेमाल किया तो उसे पूरा बिल भरना पड़ता। यह स्कीम गरीबों और मध्य वर्गीय लोगों को खूब पसंद आ रही है।
यह है दिल्ली में मुफ्त पानी की स्कीम

20,000 लीटर तक मुफ्त

0-20 यूनिट पानी की कीमत – 5.27 रुपये
20-30 यूनिट पानी की कीमत – 26.36 रुपये
30-30 से ज्यादा यूनिट पानी की कीमत – 43.93 रुपये

बसों में महिलाओं को मुफ्त सफर

राजधानी दिल्ली में दिल्ली परिवहन निगम की बसों में अक्टूबर, 2019 से ही महिलाओं के लिए बसों में मुफ्त सफर की योजना प्रभावी है। इसके तहत दिल्ली सरकार द्वारा संचालित बसों में महिलाएं पिंक पास लेकर मुफ्त सफर करती हैं। आम आदमी पार्टी सरकार की वापसी में इस स्कीम का भी बड़ा योगदान है।

दिल्ली सरकार ने शहर के रेहड़ी-पटरी वालों को 20,000 रुपये तक का कर्ज मुहैया कराने की स्कीम भी लागू की है। इसके तहत रेहड़ी-पटरी वालों को कम ब्याज दर पर कर्ज मुहैया कराया जा रहा है।

एकल कन्या योजना

मुख्यमंत्री आवास योजना दिल्ली
दिल्ली जॉब पोर्टल

वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को चुनौती दे चुके हैं अरविंद केजरीवाल

आम आदमी पार्टी मुखिया अरविंद केजरीवाल उत्तर प्रदेश की राजनीति से अनभिज्ञ नहीं हैं। वह यूपी की राजनीति से न केवल अच्छी तरह परिचित हैं, बल्कि वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में वाराणसी लोकसभा क्षेत्र से लड़ चुके हैं। इस चुनाव में अरविंद केजरीवाल दूसरे नंबर पर रहे थे। यहां पर समाजवादी पार्टी और कांग्रेस से ज्यादा वोट अरविंद केजरीवाल को मिले थे।

support media swaraj

Related Articles

Back to top button