बैंक अकाउंट, क्रेडिट कार्ड से जुड़ी इन पांच बातों का रखें ध्यान

आपने हाल-फिलहाल में किसी लोन के लिए अप्लाई किया है और इस बात को लेकर चिंतित हैं कि आपका लोन रिक्वेस्ट अप्रुव होगा या नहीं।  अगर आपका CIBIL Score बढ़िया है और आपने किसी तरह का डिफॉल्ट नहीं किया है तो आपको लोन मिलने में कोई खास कठिनाई पेश नहीं आएगी। हालांकि, किसी भी वजह से अगर सिबिल स्कोर ठीक नहीं है तो आपको लोन प्राप्त करने में जरूर दिक्कत हो सकती है। ऐसे में अगर आप अपनी बैंकिंग लेनदेन और क्रेडिट कार्ड को मैनेज करते समय कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखते हैं तो आपको कर्ज मिलने में कोई परेशानी नहीं आएगी।
1. क्रेडिट रिपोर्ट चेक करें
किसी भी तरह के लोन या नए क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करने से पहले क्रेडिट रिपोर्ट चेक करना अच्छा आइडिया है। वैसे भी आपको समय-समय पर अपना क्रेडिट रिपोर्ट चेक करते रहना चाहिए। अब आप Paytm एप के जरिए भी मिनटों में बिना कोई पैसा खर्च किए क्रेडिट रिपोर्ट चेक कर सकते हैं।
2. क्रेडिट कार्ड के यूटिलाइजेशन रेशियो पर रखिए ध्यान
अपने क्रेडिट कार्ड का यूज हर तरह के खर्च के लिए करने से बचें। कहने का अभिप्राय यह है कि अपने क्रेडिट कार्ड के कुल लिमिट का 30% तक ही यूटिलाइज करें। इससे आपके CIBIL या क्रेडिट स्कोर पर सकारात्मक असर देखने को मिलेगा। आपका हर महीने का ड्यू बैलेंस जितना कम रहेगा, आपक क्रेडिट स्कोर या सिबिल स्कोर उतना ही अच्छा रहेगा।
3. गैर-जरूरी बैंक अकाउंट को बंद करा दें
आपके पास एक से ज्यादा अकाउंट हैं और आप मिनिमम बैलेंस मेंटेन नहीं कर पाते हैं। ऐसे में आपको गैर-जरूरी बैंक खातों को बंद करा देना चाहिए। ज्यादा बैंक अकाउंट होने से सिबिल स्कोर पर असर पड़ता है।
4. जब जरूरत हो तो ही लोन के बारे में पूछताछ करें
आप अगर आप बार-बार लोन के बार में पता करने की कोशिश करते हैं तो इससे क्रेडिट स्कोर पर फर्क पड़ता है। इसलिए जब आपको किसी तरह के पर्सनल लोन या होम लोन की जरूरत हो तो ही उसके बारे में पूछताछ करनी चाहिए।
5. क्रेडिट कार्ड का बकाया जमा करना है जरूरी
अगर आपके नाम पर क्रेडिट कार्ड का बकाया है और आपका कार्ड ब्लॉक हो गया है तो लोन प्राप्त करने के लिए क्रेडिट कार्ड की बकाया राशि का भुगतान करना बहुत जरूरी है। इसके लिए आप क्रेडिट कार्ड कंपनी से बात करके सेटलमेंट करा सकते हैं।

Related Articles