जोमैटो को नेटीजन ने दी सामूहिक बहिष्कार की चेतावनी

संदीप त्रिपाठी, वरिष्ठ पत्रकार

ट्विटर पर नेटीजन ने आज #बायकॉटजोमैटो अभियान चला रखा है। गुरुवार अपराह्न 2 बजे तक इस हैशटैग पर 10 हजार से अधिक ट्वीट आ चुके थे।

जोमैटो को यह चेतावनी तब झेलनी पड़ी जब उसने राष्ट्रवादी खेमे के खिलाफ मुखर रहने वाली बॉलीवुड की अदाकार स्वरा भास्कर के एक ट्वीट पर रिप्लाई किया।

दरअसल डिफंड द हेट एकाउंट हैंडलर ने पूछता है भारत का एक डिस्कसन वीडियो लगाया जिसमें रेवाड़ी में एक नाबालिग के साथ लव जिहाद पर बहस चल रही थी। हैंडलर ने इसे हेट का प्रसार बताते हुए जोमैटो से मांग की कि वह रिपब्लिक भारत चैनल से अपने विज्ञापन वापस ले।

स्वरा भास्कर @ReallySwara ने इसी ट्वीट को जोमैटो से लिंक करते हुए कहा कि मैं आपकी नियमित ग्राहक हूँ। क्या आप नफरत का वित्तीय पोषण न करने के लिए रिपब्लिक भारत से अपने विज्ञापन वापस लेने की योजना बना रहे हैं? स्वरा ने आगे लिखा कि मैं नहीं चाहती कि मेरा पैसा नफरत फैलाने वालों का अप्रत्यक्ष रूप से ही सही,पोषण करे। कृपया अपने उपभोक्ताओं को बतायें…

स्वरा के इस ट्वीट पर जोमैटो केयर के ऑफिशियल एकाउंट @zomatocare से जवाब आया कि हम अपने स्वयं के कांटेंट के अलावा किसी कांटेंट को प्रोत्साहन नहीं देते। हम इस मामले को देख रहे हैं।

जोमैटो के इसी जवाब के खिलाफ अर्नब गोस्वामी समर्थकों का पारा चढ़ गया और उन्होंने ट्विटर पर जोमैटो के बहिष्कार का हैशटैग ट्रेंड करा दिया।

एक नेटीजन ने लिखा कि कोई कदम उठाने से पहले यह समझ लेना कि स्वरा आपकी एकमात्र ग्राहक नहीं हैं। एक अन्य ने लिखा – आप स्वरा को चुनें, हम स्विगी को चुनते हैं, सौदा पक्का।

एक नेटीजन ने लिखा कि यह राष्ट्रवाद का युग है और किसी राष्ट्रद्रोही को माफ नहीं किया जायेगा। एक अन्य ने लिखा कि आप स्वरा जैसी साँप को दूध पिलाओगे और अर्नब का विरोध करोगे तो यही होगा।

एक नेटीजन ने एक मीम डाला कि एक नियमित ग्राहक होने के नाते स्वरा भास्कर ने जोमैटो को बहिष्कार की धमकी दी। भारतीय जोमैटो का इसलिए बहिष्कार कर रहे हैं क्योंकि स्वरा उनकी नियमित ग्राहक हैं।

देश के कोने-कोने से नेटीजन इस हैशटैग पर जोमैटो के बहिष्कार की चेतावनी दे रहे हैं।

इसी के साथ नेटीजनों ने जोमैटो का ऐप अनइंस्टाल करने का अभियान चला दिया। फिलहाल इस अभियान पर जोमैटो का कोई रिप्लाई नहीं आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button