चलती से अब दौड़ती हिंदी, 1965 वाली बिंदी नही रही अब हिंदी.

हिन्दी भाषा अब केवल चल नहीं दौड़ रही है . कम्प्यूटर युग में टाइप करने में सरलता और बिना बिन्दी की वर्तनी से आधुनिक हिन्दी रोज़ के काम काज में दौड़ रही है संविधान सभा ने 14 सितंबर 1949 को हिंदी को राजभाषा का दर्जा प्रदान किया। इसी की स्मृति में प्रतिवर्ष 14 सितंबर को … Continue reading चलती से अब दौड़ती हिंदी, 1965 वाली बिंदी नही रही अब हिंदी.